ONE हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री की मौजूदा स्थिति के बारे में जानिए

Roman Kryklia Guto Inocente ONE161 1920X1280 32

सबसे पहली ONE हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री में पिछले हफ्ते धमाकेदार मुकाबले देखने को मिले।

ONE 161 की सेमीफाइनल बाउट्स में हेवीवेट स्ट्राइकर्स ने अपनी खतरनाक स्किल्स का प्रदर्शन किया, वहीं ONE Fight Night 2 में हुई अल्टरनेट बाउट में डिविजन के उभरते हुए स्टार्स ने जबरदस्त ताकत दिखाई।

यहां जानिए ग्रां प्री फाइनल से पहले की स्थिति क्या है।

सेमीफाइनल के विजेता

इराज अज़ीज़पोर ने ब्रूनो चावेस को सर्वसम्मत निर्णय से हराकर ONE हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप फाइनल का टिकट कटा लिया है।

ईरानी स्टार को ब्राजीलियाई एथलीट के खिलाफ ज्यादा मुश्किलों का सामना नहीं करना पड़ा। उन्होंने अपने अनुभव की मदद से बढ़त बनाए रखी।

हालांकि, चावेस ने दमदार राइट हैंड्स और लो किक्स लगाकर अच्छी शुरुआत की, लेकिन अज़ीज़पोर की तेजी का कोई तोड़ नहीं था। समय बीतने के साथ ईरानी एथलीट ने बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ दमदार ओवरहैंड राइट्स और स्पिनिंग किक्स के अलावा कई खतरनाक शॉट्स लगाए।

कुछ देर बाद रोमन क्रीकलिआ ने ग्युटो इनोसेंटे को फिनिश किया।

मौजूदा ONE लाइट हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन ने केवल 52 सेकंड में अपने पुराने प्रतिद्वंदी को फिनिश कर खुद को टूर्नामेंट में जीत का प्रबल दावेदार साबित किया।

एक खतरनाक राइट हैंड ने इनोसेंटे को नॉकडाउन किया और जब ब्राजीलियाई एथलीट दोबारा खड़े हुए, तभी क्रीकलिआ ने हेड किक लगाकर उन्हें झकझोर दिया।

इनोसेंटे के सर्कल से टकराते ही रेफरी ने मैच समाप्ति का ऐलान कर दिया। ये यूक्रेनियाई की लगातार 12वीं जीत रही, जिससे उन्होंने टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई।

फाइनल में क्या हो सकता है?

अज़ीज़पोर और क्रीकलिआ काफी समय बाद ट्रायलॉजी बाउट में भिड़ने को तैयार हैं।

ईरानी एथलीट ने फरवरी 2018 में क्रीकलिआ को बहुमत निर्णय से मात दी थी। पहले 3 राउंड्स में दोनों के पॉइंट्स बराबर थे इसलिए उन्हें एक ज्यादा राउंड में फाइट करनी पड़ी थी।

उसके एक साल बाद Gridin Gym के स्टार ने सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल कर इस प्रतिद्वंदिता में 1-1 की बरबरी की और वो अभी तक अज़ीज़पोर की आखिरी जीत भी रही।

उनके ONE में आने के बाद इस ट्रायलॉजी बाउट का होना निश्चित था और इस मैच का विजेता पहला ONE हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियन बनकर इतिहास रचेगा।

दोनों फाइनलिस्ट्स के पास जबरदस्त पावर और शानदार स्किल सेट है इसलिए उनकी तीसरी भिड़ंत क्लासिक रहने वाली है। 

फाइनल में बदलाव हुआ तो दूसरे फाइटर को मिलेगा मौका

अगर फाइनलिस्ट्स में से किसी एक को बाहर होना पड़ता है तो एक खतरनाक सर्बियाई एथलीट उनकी जगह लेने के लिए तैयार होगा।

ONE Fight Night 2 में राडे ओपाचिच ने जियानिस स्टोफोरीडिस को ONE हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री अल्टरनेट बाउट के दूसरे राउंड में फिनिश कर जीत की लय वापस प्राप्त की।

चूंकि वो जीत ओपाचिच को टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश दिला सकती थी, इसी बात से प्रेरणा लेकर उन्होंने क्रॉस-हुक-क्रॉस कॉम्बिनेशन लगाकर “हरक्यूलिस” को मात दी।

अब ONE के हेवीवेट किकबॉक्सिंग डिविजन में उनका रिकॉर्ड 5-1 का है और उनकी सभी जीत नॉकआउट से आई हैं। ओपाचिच को अगर फाइनल में प्रवेश नहीं मिला तो भी उन्होंने टूर्नामेंट के विजेता को ललकारा है।

किकबॉक्सिंग में और

Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Kompet Fairtex Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 58 10
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
MasaakiNoiri Champ 1200X800
Jacob Smith Denis Puric ONE Fight Night 21 24