3 बड़ी बातें जो हमें ONE Friday Fights 10 से पता चलीं

Rak Erawan Chusap Sor Salacheep ONE Friday Fights 10 34

कई यादगार फिनिश और निर्णय के जरिए कांटेदार मुकाबलों के साथ ONE Friday Fights 10 ने ग्लोबल फैन बेस का खूब मनोरंजन किया।

24 मार्च को थाईलैंड के बैंकॉक के प्रतिष्ठित लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में मार्शल आर्ट्स के 11 रोमांचक मुकाबलों में फाइटर्स ने अपनी बेहतरीन स्किल्स के साथ ताकत का भी प्रदर्शन किया।

इससे पहले कि हम अगले शो पर नज़र डालें, आइए ONE Friday Fights 10 से जुड़ी 3 सबसे खास बातें जान लेते हैं।

#1 रैक इरावन भविष्य के एटमवेट स्टार हो सकते हैं

रैक इरावन ने 116-पाउंड कैचवेट बाउट के पहले राउंड में ही छुसप सोर सलाचीप के खिलाफ तकनीकी नॉकआउट से जीत दर्ज करके ग्लोबल फैन बेस के सामने खुद को बेहतरीन एथलीट के रूप में लाकर खड़ा कर दिया।

मुक्कों की बारिश करके छुसप को ढेर करने के लिए 21 साल के थाई फाइटर को बस एक मिनट से थोड़ा ज्यादा का वक्त ही लगा। तकनीकी नॉकआउट से जल्द मिली जीत ने उन्हें एटमवेट डिविजन के बेहतरीन एथलीट्स की नजरों के सामने ला दिया।

ऐसे में Lumpinee Stadium मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन की स्किल्स पर सवाल उठाने का कोई प्रश्न ही नहीं बनता। अगर Erawan Gym के प्रतिनिधि संगठन में इस तरह का प्रदर्शन आगे भी जारी रखते हैं तो ONE वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर बनने में उन्हें ज्यादा समय नहीं लगेगा।

पुरुषों का एटमवेट मॉय थाई डिविज़न तभी बना, जब ONE के लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में हुए इवेंट्स शुरु हुए। हालांकि, रैक की 72 सेकंड में आई जबरदस्त जीत ने उन्हें पहले ही इस डिविज़न के बेहतरीन एथलीट्स के बीच लाकर खड़ा कर दिया है।

#2 स्ट्रॉवेट डिविजन के उभरते फाइटर तियाई पीके साइन्चाई

5 सप्ताह पहले ही ONE Friday Fights में डेब्यू के दौरान तियाई पीके साइन्चाई ने लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में धमाकेदार जीत दर्ज की थी।

हालांकि, डेब्यू में आए फिनिश से विपरीत इस बार 21 साल के PK Saenchai Muaythaigym के प्रतिनिधि को मनोलिस कैलिस्टिस को स्ट्रॉवेट मॉय थाई मुकाबले में हराने के लिए तीन राउंड तक संघर्ष करना पड़ा, लेकिन उनकी ये फाइट भी कम प्रभावशाली नहीं रही।

कैलिस्टिस ने तियाई पर सबसे ताकतवर और अपरंपरागत शॉट्स लगाए, लेकिन चालाक थाई एथलीट भी धैर्य ना खोते हुए अपनी रफ्तार बढ़ाते गए। उन्होंने कड़े प्रतिद्वंदी के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन करने के लिए ताकतवर पंच, किक के साथ ही फ्लाइंग नी और स्पिनिंग अटैक करते हुए आखिरी तक जवाब दिया।

अब तियाई ने निश्चित ही एक के बाद एक जीत दर्ज करके ONE Championship रोस्टर में कुछ बड़े स्ट्रॉवेट फाइटर्स के खिलाफ प्रतिस्पर्धा करने का रास्ता बना लिया है।

#3 इवान पारशिकोव बेंटमवेट के कुछ बड़े नामों के खिलाफ तैयार

इवान पारशिकोव ने ONE Friday Fights में अपनी दूसरी जोरदार मौजूदगी दर्ज कराते हुए करियर में एक और प्रभावशाली जीत दर्ज की। इसके साथ ही उन्होंने खुद को बेंटमवेट MMA डिविजन में एक उभरते हुए फाइटर के रूप में स्थापित कर लिया।

रूसी एथलीट ने रियो चोनन के शिष्य यू करीनो का सामना किया। उन्होंने शुरू में ही खुद को एक बड़े खतरे में पाया, लेकिन जल्दी वापसी कर ली। उन्होंने डिफेंस को हमले में बदलते हुए चतुराई से महज 50 सेकंड में नीबार फिनिश हासिल करके अपनी बहुमुखी प्रतिभा पेश कर दी।

पारशिकोव ने बेहतरीन प्रतिद्वंदियों के खिलाफ लगातार जीत हासिल की हैं। इस वीकली सीरीज में रूसी एथलीट के पहले विरोधी दिमित्री बाबकिन, जिनका रिकॉर्ड उस समय 7-1 का था, जिन्हें उन्होंने सर्वसम्मत निर्णय के जरिए पराजित किया और इस बार करीनो का रिकॉर्ड 8-2 का था।

दो प्रतिभाशाली फाइटर्स को पराजित करके 25 साल के फाइटर ने ये साबित कर दिया कि वो बेंटमवेट डिविज़न के कुछ बड़े नामों के खिलाफ तैयार हैं।

मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में और

Nakrob Fairtex Tagir Khalilov ONE Friday Fights 67 40
Tagir Khalilov Yodlekpet Or Atchariya ONE Friday Fights 41 22 scaled
Ritu Phogat
Nakrob Fairtex Muangthai PK Saenchai ONE Friday Fights 10
Kade Ruotolo Blake Cooper ONE 167 69
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Akram Hamidi Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 66 14
TawanchaiPKSaenchai SmokinJoNattawut 1920X1280
Kongchai AkramHamidi 1920X1280
Kade Ruotolo Francisco Lo ONE Fight Night 21 60