बैंटमवेइट विश्व चैंपियन

बीबियानो
फर्नांडीस

" फ़्लैश"

ऊंचाई
170 CM
भार सीमा
65.8 KG
टीम
ए एम् सी पानक्रेशन
से
ब्राजील
ऊंचाई
170 CM
भार सीमा
65.8 KG
टीम
ए एम् सी पानक्रेशन
से
ब्राजील

के बारे में

ONE बैंटमवेट वर्ल्ड चैंपियन बिबियानो फर्नांडीस ने बचपन में बड़े होने के कारण बड़ी असहनीय तकलीफों का सामना किया। ब्राज़ील में जन्मे बिबियानों की मां का निधन उस समय हो गया था, जब वह महज 7 साल के थे।

उनकी और भाई-बहनों का पालन-पोषण करने में असमर्थ उनके पिता को अमेज़न जंगल में अपनी चाची के साथ रहने के लिए भेजने को मजबूर होना पड़ा। वहां वह मलेरिया के चपेट में आ गए। यहां से मनौस शहर में वापस जाने के बाद भी उसकी मुसीबतों का अंत नहीं हुआ, क्योंकि वह बेघर थे और सड़कों पर रहने को मजबूर थे।

कार की शीशों की सफाई करने के दौरान एक बाद उन्हें ब्राजीलियाई जिउ-जित्सु में फाइट करने जाना पड़ा। इससे आत्मसात होने के बाद उन्हें इस कला से लगाव हो गया। हालांकि, वह इसके प्रशिक्षण के लिए भुगतान नहीं कर सकते थे, लेकिन उसे सौभाग्य से एक कोच मिला जिसने उसे जिम की सफाई के बदले प्रशिक्षण देने की बात कही।

वह इस “जेंटल आर्ट” में एक विलक्षण साबित हुए और दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बनकर अपनी किस्मत बदल दी। इस दौरान उन्होंने कई बड़े इवेंटों में कुल 11 स्वर्ण पदक जीते। इसमें प्रतिष्ठित IBJJF विश्व चैंपियनशिप भी शामिल है, जिसे उन्होंने तीन बार ब्लैक बेल्ट के रूप में जीता।

एक नई चुनौती की तलाश में रिंग में कदम रखने के बाद फर्नांडीस ने वास्तव में खुद को पहचान लिया था। जापान में वह ड्रीम के साथ दो-डिवीजन ग्रांड प्रिक्स विजेता और विश्व चैंपियन बन गए। उन्होंने वर्ष 2012 में ONE Championship के लिए शानदार शुरुआत की और जल्द ही निर्विवादित ONE बैंटमवेट वर्ल्ड चैंपियन बन गए।

फ़र्नांडिस ने आठ बार के रिकॉर्ड को एक बार फिर से हासिल कर लिया, जो कि केविन बेलिंगन को एक करीबी मुकाबले में रीमैच में हारने से पहले ONE के सबसे प्रमुख मार्शल आर्टिस्ट और वर्ल्ड चैंपियन के रूप में अपनी जगह को मजबूत करता था। हालाँकि, वह जापान में ONE के ऐतिहासिक पदार्पण में वर्ल्ड टाइटल को पुनः प्राप्त कर एक बार फिर से डिविजिन के निर्विवाद राजा के रूप में खड़े हैं।