मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

‘ONE On TNT’ सीरीज के बाद फ्लाइवेट डिविजन पर एक नजर

मई 6, 2021

8 अप्रैल को “ONE on TNT I” का आयोजन हुआ, जिसका फोकस फ्लाइवेट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स डिविजन पर रहा क्योंकि इसी इवेंट में एड्रियानो “मिकीन्यो” मोरेस और डिमिट्रियस “माइटी माउस” जॉनसन के बीच वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच हुआ था।

मोरेस इसी मैच में जॉनसन को फिनिश करने वाले दुनिया के पहले एथलीट बने, जहां उन्हें दूसरे राउंड में नॉकआउट से जीत मिली थी। इस जीत से उन्हें भी ONE Championship के सबसे महान फ्लाइवेट एथलीट के तौर पर देखा जाने लगा है।

यूएस प्राइम-टाइम टेलीविजन पर आई इस सीरीज में इसके अलावा भी कई धमाकेदार मुकाबले हुए। यहां आप जान सकते हैं कि “ONE on TNT” सीरीज के बाद फ्लाइवेट डिविजन की स्थिति पहले के मुकाबले कितनी बदल चुकी है।

मौजूदा चैंपियन

जॉनसन की ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड ग्रां प्री में जीत और वर्ल्ड टाइटल शॉट प्राप्त करने के बाद ही लोग उन्हें अगले चैंपियन के रूप में देखने लगे थे। मगर मोरेस का भी खुद पर भरोसा अडिग था।

ब्राजीलियाई स्टार ने ट्रेनिंग के दौरान धैर्य बनाए रखा, जिसका फल उन्हें जीत के रूप में मिला।

पहले राउंड की कांटेदार टक्कर के बाद “मिकीन्यो” के अपरकट के प्रभाव से जॉनसन मैट पर जा गिरे और बाद में ग्राउंड गेम में आई नी स्ट्राइक ने मैच को अंतिम रूप दिया।

“माइटी माउस” अपने करियर में कभी भी फिनिश नहीं हुए थे इसलिए मोरेस के लिए ये बहुत बड़ी उपलब्धि रही, जो अन्य कंटेंडर्स से अब बहुत बेहतर आगे निकल चुके हैं।

ब्राजीलियाई स्टार के नाम अब ONE फ्लाइवेट डिविजन के इतिहास में सबसे ज्यादा जीत (10), सबसे ज्यादा वर्ल्ड टाइटल जीत (7), सबसे ज्यादा फिनिश (7) और सबमिशन का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है।

अब उनका लक्ष्य अपनी विरासत को कायम रखने पर है और शायद “माइटी माउस” को पछाड़कर सबसे महान एथलीट का दर्जा भी प्राप्त कर सकते हैं।

अगले वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर्स?

Exclusive photos from Kazakh flyweight Kairat Akhmetov and South Korean star Dae Hwan Kim’s MMA fight at ONE: COLLISION COURSE II on 25 December

काइरत “द कज़ाख” अख्मेतोव अभी शानदार फॉर्म में हैं और मोरेस से प्रतिद्वंदिता में आगे निकलना चाहते हैं। दोनों अभी तक वर्ल्ड चैंपियनशिप मैचों में एक-दूसरे के खिलाफ 1-1 जीत दर्ज कर चुके हैं।

#3 रैंक के कंटेंडर और पूर्व वर्ल्ड चैंपियन लगातार 3 जीत दर्ज कर चुके हैं इसलिए उन्हें “मिकीन्यो” के अगले चैलेंजर के रूप में देखना कोई गलत बात नहीं।

दूसरी ओर, #4 रैंक के कंटेंडर युया “लिटल पिरान्हा” वाकामत्सु भी अपनी शानदार लय के आधार पर वर्ल्ड टाइटल शॉट की मांग कर रहे हैं। सबसे नए कंटेंडर्स में से एक होने के चलते उन्हें वाकई में चैंपियनशिप मैच मिल सकता है।

कई टॉप कंटेंडर्स मोरेस के खिलाफ हार चुके हैं, लेकिन जापानी नॉकआउट आर्टिस्ट से अभी तक उनका सामना नहीं हुआ है। वाकामत्सु की 4 मैचों की विनिंग स्ट्रीक और गज़ब की नॉकआउट पावर उन्हें चैंपियन के लिए बड़े खतरे के रूप में प्रदर्शित कर रही है।

अख्मेतोव एक रेसलर हैं और वाकामत्सु एक स्ट्राइकर, जो दोनों “मिकीन्यो” के सामने कड़ी चुनौती पेश कर सकते हैं और उनका रिकॉर्ड उन्हें भविष्य में जरूर चैंपियनशिप मैच दिला सकता है।



अन्य चैलेंजर्स

ये भी सत्य है कि जॉनसन को दोबारा वर्ल्ड चैंपियनशिप की रेस में शामिल होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। #1 रैंक के कंटेंडर उत्तर अमेरिका के सबसे महान फ्लाइवेट एथलीट रहे हैं और उसके बाद ONE में आकर लगातार 3 जीत दर्ज करते हुए वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप भी अपने नाम की थी।

मोरेस के खिलाफ हार के बाद उन्हें तुरंत रीमैच मिलना मुश्किल है, लेकिन 2 या 3 जीत दर्ज करने के बाद जाहिर तौर पर वो ब्राजीलियाई स्टार को दोबारा चैलेंज कर पाएंगे।

2017 में “मिकीन्यो” के खिलाफ हार के बाद डैनी “द किंग” किंगड भी लगातार 6 जीत प्राप्त कर चुके थे, लेकिन उनके शानदार सफर का अंत ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप के फाइनल में “माइटी माउस” के खिलाफ हार के साथ हुआ था।

जनवरी 2020 में “द हंटर” शी वेई को हराकर उन्होंने जीत की लय वापस प्राप्त की और एक बड़ी जीत के बाद #2 रैंक के कंटेंडर को चैंपियनशिप मैच मिल सकता है।

रीस “लाइटनिंग” मैकलेरन को चाहे पिछली बार वाकामत्सु के खिलाफ करीबी अंतर से हार मिली, लेकिन भविष्य में वो स्टाइल के मामले में मोरेस के सबसे खतरनाक प्रतिद्वंदी साबित हो सकते हैं।

मैकलेरन की BJJ स्किल्स शानदार हैं, रेसलिंग और सबमिशन स्किल्स में महारत रखते हैं। लेकिन #5 रैंक के कंटेंडर को चैंपियनशिप के करीब पहुंचने से पहले जीत की लय वापस प्राप्त करनी होगी।

एथलीट्स रैंकिंग्स में प्रवेश की तलाश में

फ्लाइवेट डिविजन में बड़े स्टार्स भरे हुए हैं और कई स्टार्स टॉप 5 कंटेंडर्स में जगह बनाने को बेताब हैं।

पूर्व वर्ल्ड चैंपियन जेहे “ग्रैविटी” युस्ताकियो 2 मैचों की विनिंग स्ट्रीक पर चल रहे हैं, वहीं शी वेई, किंगड के खिलाफ हार के बाद चान रोथाना को हरा चुके हैं। वहीं ONE Hero Series से आए “वुल्फ़ वॉरियर” हू योंग ने अपने डेब्यू में योडकाइकेउ “Y2K” फेयरटेक्स को उलटफेर का शिकार बनाया था।

गुरदर्शन “सेंट लॉयन” मंगत और रोशन मैनम ONE: DANGAL के कैचवेट मुकाबले में आमने-सामने होंगे और दोनों ही फ्लाइवेट डिविजन में अलग पहचान बनाना चाहते हैं।

जापानी स्टार तत्सुमित्सु “द स्वीपर” वाडा और फिनलैंड के स्टार अलेक्सी “द जायंट” टोइवोनन भी किसी भी टॉप कंटेंडर के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकते हैं।

ये सभी बातें दर्शाती हैं कि फ्लाइवेट डिविजन में आने वाले महीनों में भी जबरदस्त एक्शन यूं ही जारी रहने वाला है।

ये भी पढ़ें: 15 मई को वेरा vs भुल्लर वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच ONE: DANGAL को हेडलाइन करेगा

और लोड करें

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.